लखनऊ में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का बड़ा सेंटर बनेगा जानिए

खेल

हिन्दी समाचार

यूपीसीए के लिए कानपुर और लखनऊ दिल और धड़कन की तरह हैं। कानपुर के खेलप्रेमी निराश न हों कि वहां से क्रिकेट के सेंटर का रुतबा खत्म हो जाएगा। ऐसे में अब बीसीसीआई जिन मैचों की मेजबानी उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन (यूपीसीए) को सौंपेगा व इन्हें लखनऊ के इकाना और कानपुर के ग्रीनपार्क स्टेडियम में बारी-बारी से कराएगा। यूपीसीए के सचिव और आईपीएल के चेयरमैन राजीव शुक्ला ने सोमवार को कही।
वेस्टइण्डीज व भारत के बीच नवम्बर में होने वाले ट्वेंटी-20 मुकाबले की मेजबानी मिलने बाद राजीव शुक्ला इकाना स्टेडियम पहुंचे। इसके अलावा बुधवार से इकाना स्टेडियम में शुरू हो रहे अण्डर-19 तीन देशों के क्रिकेट टूर्नामेंट की तैयारियों का भी उन्होंने जायजा लिया।

इसी दौरान उन्होंने मीडिया से भी बात की। उन्होंने कहा कि यूपीसीए की कतई मंशा नहीं है कि कानपुर से क्रिकेट का सेंटर खत्म हो। कानपुर का ग्रीन पार्क पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है। ग्रीन पार्क देश ही नहीं विदेशी टीमों का भी पसंदीदा टेस्ट सेंटर है। ऐसे में यूपीसीए को जितने भी टेस्ट मैच मिलेंगे उसे वह  ग्रीन पार्क में ही कराने की कोशिश करेगा। टेस्ट मैच के लिए ग्रीनपार्क को प्राथमिकता दी जाएगी। चूंकि लखनऊ में नया अंतरराष्ट्रीय सेंटर बना है ऐसे में इसे भी मौके मिलेंगे। यूपीसीए के सामने अब विकल्प हैं।


उन्होंने कहा कि इकाना अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम को आईसीसी ने भी एपप्रूव्ड कर दिया है। यहां खिलाड़ियों व दर्शकों के लिए सभी सुविधाएं हैं। वेस्टइण्डीज-भारत के बीच होने वाले ट्वेंटी-20 मुकाबले की मेजबानी पाकर इकाना स्टेडियम प्रबंधन जितना खुश है उतना ही यूपीसीए भी। चूंकि लखनऊ में करीब 28 साल बाद कोई अंतरराष्ट्रीय मैच होगा इसलिए इसे भव्य रूप से आयोजित किया जाएगा। उद्घाटन के मौके पर कुछ नया करने पर विचार किया जा रहा है।

आईपीएल के बारे में उन्होंने कहा कि अगले साल यानी 2019 में लोकसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में आईपीएल को यूनाइटेड अरब अमीरात में आयोजित किया जाएगा। अगर आईपीएल भारत में होती तो इसके मुकाबले इकाना या ग्रीनपार्क में कराए जा सकते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *