HDFC के वाइस प्रेसिडेंट की हत्या, आरोपी जुर्म कुबूल कर के बोला की बाइक की EMI भरने के लिए किया मर्डर

जुर्म

Hindi news

HDFC बैंक के वाइस प्रेसिडेंट की हत्या के आरोप में गिरफ्तार सरफराज शेख ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया है। 20 वर्षीय शेख ने बताया कि उसने वाइस प्रेसिडेंट सिद्धार्थ सांघवी की हत्या अपनी बाइक की ईएमआई भरने के लिए की थी।

बता दें कि सांघवी की हत्या 5 सितंबर को लोवर परेल के कमला मिल्स कंपाउंड की पार्किंग में लूटपाट में नाकाम होने की वजह से की गई थी। शेख ने पुलिस से कहा कि जो हुआ वो हुआ सर, मैंने ही किया है। सरफराज शेख ने सोमवार को आगे कहा कि गाड़ी की ईएमआई और पैसों का दबाव था और मैं देखता था उनको ऊपर नीचे जाते हुए। शेख को पुलिस ने 19 सितंबर तक रिमांड पर लिया है।

सरकारी अभियोजक सुचित्रा नारोटा ने बताया कि एनएम जोशी मार्ग पुलिस ने शेख को हत्या करने की धारा 302, अपहरण की धाराएं 364, 365 और लूटपाट की धारा 397 के तहत गिरफ्तार किया।

जांच अधिकारी ने अदालत से कहा कि पुलिस शेख की कस्टडी चाहती है जिससे सांघवी की हत्या के पीछे का मकसद तलाशा जा सके। अधिकारी ने आगे कहा कि वह इस बात की भी जांच करना चाहते हैं कि शेख ने वारदात को अकेले अंजाम दिया या फिर उसके साथ कोई और भी था। वहीं, हमारे सहयोगी अखबार हिन्दुस्तान टाइम्स को पुलिस सूत्रों ने जानकारी दी है कि सांघवी शाम 7-7:15 तक ऑफिस से निकलते थे और घर रात में तकरीबन 8:30 तक पहुंचते थे।

बता दें कि इस मामले में सरफराज शेख उर्फ रईस को पुलिस ने पिछले दिनों गिरफ्तार किया था जो कमला मिल्स के पार्किंग वे में काम करता था। कमला मिल्स परिसर में ही सांघवी का कार्यालय था। सांघवी पिछले बुधवार को घर नहीं लौटे थे जिसके बाद उनके परिवार ने मध्य मुम्बई के एन एम जोशी मार्ग थाने में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करायी थी। उनका दक्षिण मुम्बई के मालाबार हिल इलाके में घर है।

सांघवी की गुमशुदगी के तीन दिन बाद उनके पिता को कॉल आया और फोनकर्ता ने उनसे कहा कि उनका बेटा सुरक्षित है और उन्हें चिंतिंत होने की जरुरत नहीं है। पुलिस के अनुसार जांच में खुलासा हुआ कि यह कॉल नवी मुम्बई से सांघवी के फोन से किया गया लेकिन सिमकार्ड भिन्न था।
पुलिस को यह फोन शेख के पास मिला। पुलिस का दावा है कि शेख को हिरासत में लेने के बाद जब पूछताछ की गयी है तो उसने पैसे की खातिर सांघवी की हत्या करने की बात कथित रुप से कबूली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *